Bhulekh Uttarakhand: खतौनी तथा भूलेख विवरण चेक, bhulekh.uk.gov.in

उत्तराखंड राजस्व विभाग ने राज्य के भूलेख विवरण (Details) को ऑनलाइन माध्यम से जारी कर दिया है। ताकि राज्य के निवासियों को इससे सबंधित कार्य हेतु तहसील के कार्यालय (Office) में भटकना न पड़े। विभाग ने ‘Bhulekh Uttarakhand’ के लिए bhulekh.uk.gov.in पोर्टल को पब्लिश किया है। जिसकी मदत से भूमि से रिलेटेड जानकारियां को आसानी से निकाल सकते है। अगर आप भी सबंधित राज्य के निवासी है तो जरूर आपके लिए उपयोगी पोस्ट होगा।

Uttarakhand Bhulekh Portal 2024
Department byRevenue of board
StateUttarakhand
CategoryLand Record
Official websitebhulekh.uk.gov.in

भूलेख उत्तराखंड (Bhulekh Uttarakhand) क्या है?

Board of Revenue, Department उत्तराखंड ने राज्य के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के भूमि की विवरण को ऑनलाइन माध्यम से उपलब्ध किया है। जिसमें जमींन के मालिक नाम,खसरा संख्या,खतौनी,भूमि का क्षेत्रफल,जमाबंदी,खाता नंबर आदि डिटेल्स को देख सकते है। इसके अलावा भी भूमि के अन्य विवरण को भी जान सकते है। यूजर को इसके लिए न ही लॉगिन करने की जरूरत है। बल्कि अन्य राज्य के निवासी भी कुछ-कुछ डाटा को चेक कर देख पायेंगें।

मध्य प्रदेश भूलेख देखें।

उत्तराखंड खसरा खतौनी विवरण निकालें-

  1. सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट के इस लिंक पर जाएँ- https://bhulekh.uk.gov.in/Bhulekh/public/public_ror/Public_ROR.jsp
  2. फिर, जनपद नाम,तहसील,ग्राम (Village) नाम को सेलेक्ट करना है।
bhulekh uttarakhand khasra no check
उत्तराखंड खसरा विवरण
  1. इसके बाद खसरा संख्या/गाटा,खाता संख्या,रजिस्ट्री द्वारा,म्युटेशन तारीख,विक्रेता,क्रेता तथा खातेदार नाम आदि में से किसी एक विकल्प को चुनें।
  2. चुने गए विकल्प के विवरण को उपलब्ध बॉक्स में लिखें।
  3. इसके पश्चात ‘खोजें’ पर क्लिक करना है तथा “उद्धरण देखें” पर क्लिक करे।
  4. अब, खातेदार का नाम,भौमिक अधिकार वर्ष,खसरा संख्या,क्षेत्रफल आदि डिटेल्स शो होगा। जिसमें से जिस भी खसरा नंबर का देखना हो उस संख्या पर क्लिक करे दें।
bhulekh uk gov in bhulekh
खतौनी डिटेल्स

लॉगिन कौन कर सकता है?

  • राजस्व परिषद रिपोर्ट यूजर
  • जनपद स्तर
  • तहसील प्रबन्धनकर्ता
  • स्वामित्व यूजर
  • तहसील रिपोर्ट
  • ग्राम मेपिंग यूजर
  • तहसील म्यूटेशन

स्वामित्व ग्राम डाटा विवरण

यदि आप उत्तराखंड राज्य के भूमि स्वामित्व ग्राम डाटा विवरण जानना चाहते है तो ऑफिसियल वेबसाइट की मदत से सभी तहसील तथा ग्राम (Village) का प्रॉपर्टी संख्या देख सकते है। But, इसके लिए पहले Swamitv Status पेज पर जाना होगा। जिसमें तहसील का चयन करे जिसका देखना है।

पोर्टल में लॉगिन प्रक्रिया

1. पहले ऑफिसियल वेबसाइट के होम पेज को खोलें।

2. फिर, ‘Username’ और ‘Password’ को डालें।

3. Then, कैप्चा कोड को सही से भर ले और “Login” के बटन पर क्लिक करे।

login in bhulekh.uk.gov.in
पोर्टल में लॉगिन

तहसील के Census कोड कैसे देखें?

  • इसके लिए सबसे पहले ऑफिसियल पोर्टल के ‘Live Tehsil Status‘ लिंक पर जाएँ।
  • जिला नाम सेक्शन में स्थित Online Tehsil नंबर पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद जिला नाम,तहसील नाम और Tehsil Census Code दिखाई देगा।

विभाग के संपर्क विवरण

यदि आप विभाग के संपर्क हेल्पलाइन की तलाश कर रहे है तो ‘Department of Revenue Board’ की ऑफिसियल वेबसाइट में Contact Us पेज में जाना होगा। जिसमें डिपार्टमेंट के उच्च अधिकारियों के फ़ोन नंबर तथा फैक्स देख सकते है। विभिन्न पद में कार्यरत अफसरों के नाम एवं कांटेक्ट डिटेल्स उपलब्ध कर दिया गया है।

FAQs: Bhulekh Uttarakhand State 2024

Q. क्या पोर्टल में उपलब्ध विवरण न्यायालय में सबूत (Proof) के लिए मान्य होगा?

पोर्टल में उपलब्ध ऑनलाइन विवरण को कोर्ट में प्रूफ के लिए मान्यता नहीं दिया जायेगा।

Q. पोर्टल में डाटा अपडेट कौन कर सकता है?

वेबसाइट पर किसी भी डाटा को सबंधित विभाग के अधिकारी द्वारा ही अपडेट तथा अपलोड किया जा सकता है।

Q. भूमि के विवरण नहीं मिलने पर क्या करे?

कोई बार यूजर को सर्च कर रहे भूमि का डिटेल्स नहीं मिलता है,ऐसे स्थिति में कुछ दिनों के दोबारा सर्च करे या अपने तहसील में जाएँ।

Q. भूमि विवाद जैसे समस्या का क्या कोर्ट में न्याय मिलता है?

बिलकुल, इसमें कोई संदेह नहीं है की देश की सभी विवादों के लिए न्यायलय द्वारा ही इंसाफ दी जाती है।

Q. क्या ज़मीन के मालिक बदल जाने पर तुंरत पोर्टल में अपडेट हो जायेगा?

यदि भूमि के मालिक नाम बदल जाएँ तथा जमीन का अन्य मालिक तो पोर्टल में अपडेट होने में कुछ समय लग सकता है। जब तक अपडेट न हो जाएं तब तक पहले वाले मालिक का ही विवरण शो होगा।

Q. भू-लेख उत्तराखंड पोर्टल में कोई भी लॉगिन कर सकता है?

नहीं, किसी भी यूजर को लॉगिन करने लिए ‘प्रयोगकर्ता (Username)’ एवं ‘पासवर्ड’ की आवश्यकता होती है जो सभी यूजर के पास मौजूद नहीं होता है।

Q. ऑफलाइन तहसील की संख्या कितनी है?

पोर्टल में उपलब्ध डाटा पर आधारित केवल 2 ऑफलाइन तहसील ही मौजूद है।

Q. डिजिटल हस्ताक्षरित का प्रतीक्षा यूजर को कब कहा जाता है?

जब यूजर को सर्च कर रहा डाटा प्राप्त न हो तो उन्हें डिजिटल हस्ताक्षरित होने का प्रतीक्षा करने का सलाह दिया जाता है।