DBT बिहार एग्रीकल्चर: स्टेटस तथा रजिस्ट्रेशन। dbtagriculture.bihar.gov.in

DBT Bihar (DBT Agriculture Bihar) पोर्टल जो बिहार राज्य के किसानों के लिए विभिन्न योजनाओं के आवेदन करने के लिए उपयोगी है। यदि आप राज्य का एक किसान है और सरकारी योजना का लाभ लेना चाहते है। फिर तो बिहार स्टेट गवर्नमेंट द्वारा जारी किया गया dbtagriculture.bihar.gov.in पोर्टल के बारें में जरूर जान लेना चाहिए।

BIHAR DBT AGRICULTURE
DepartmentAgriculture dept. of Bihar
Toll Free Number1800-180 1551
Registration timing9:00 AM to 6:00 PM
Official websitedbtagriculture.bihar.gov.in

DBT एग्रीकल्चर बिहार क्या है?

बिहार सरकार द्वारा जारी किया गया एक पोर्टल है। जिसमें कृषि से सबंधित सभी के योजनाओं को जो किसानों के लिए शुरू की गई योजनाएं का विवरण और आवेदन प्रक्रिया उपलब्ध है। जो राज्य सरकार और केंद्र सरकार के योजना के अंतर्गत आता है। जिससे किसानों को इन योजनाओं से आर्थिक मदत मिल सके। जो प्रत्यक्ष लाभ अंतरण कृषि विभाग, बिहार सरकार द्वारा जारी किया गया है। DBT Bihar Agriculture Portal के माध्यम से आसानी से कोई प्रकार योजनाओ के ऑनलाइन फॉर्म भर सकते है। जो खास कर किसानों के लिए काफी लाभकारी है।

DBT Bihar agriculture portal (dbtagriculture.bihar.gov.in)
DBT agriculture Bihar

किसान रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन

  • जो भी किसान रजिस्ट्रेशन करना चाहता है वह पहले ऑफिसियल वेबसाइट के ‘पंजीकरण करे‘ लिंक पर जाएँ।
  • पेज खुल जाने के बाद CSC,SAHAJ और General User आदि ऑप्शन का पॉप-अप खुलेगा। परन्तु आपको Close के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद फिर तीन विकल्प दिखाई देगा- (a) Demography+OTP, (b) Demography+BIO-AUTH तथा (c) IRIS इत्यादि।
  • इनमें से पहले (a) वाला ऑप्शन आधार से लिंक है तो चयन करे। अन्यथा (b) ऑप्शन को चुने जो बायोमेट्रिक माध्यम से होगा। इसके अलावा (c) विकल्प आँखों से सत्यापन के लिए है।
  • यदि आपने दूसरा यानि Demography+BIO-AUTH को चयन किया है तो डिवाइस,आधार संख्या,नाम को भरे तथा Start Capture पर क्लिक करे।
  • फिर, Authenticate बटन पर क्लिक करना होगा। इसके पश्चात तीन विकल्प- किसान पंजीकरण,विक्रेता तथा अनुज्ञप्ति प्रमाण-पत्र देख पायेगें।
  • इनमे से किसान पंजीकरण को सेलेक्ट करे और व्यक्तिगत डिटेल्स जैसे- नाम,पता ,मोबाइल नंबर तथा अन्य सभी सबंधित विवरण को लिखें।
  • बैंक विवरण को भर लेने के बाद OTP वेरीफाई कर लें और Submit पर क्लिक करे। अंतिम स्टेप में Register के लिंक पर क्लिक करे

Official Login on DBT Bihar Portal

  1. सबसे पहले ऑफिसियल साइट के इस लिंक पर जाएँ- https://dbtagriculture.bihar.gov.in/HomePage.aspx
  2. अपना ‘Designation’ को चयन करना है और ‘Username’ तथा ‘Password’ को भरे।
  3. इसके बाद कैप्चा कोड को भरना है और “Login” पर क्लिक करे।
DBT agriculture portal login
DBT Bihar login

पोर्टल में मौजूद योजनाएं लिस्ट-

  • प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना
  • कृषि यांत्रिकरण योजना
  • बीज अनुदान आवेदन
  • जल जीवनी हरियाली
  • डीजल अनुदान रबी और डीजल अनुदान खरीफ
  • जैविक खेती अनुदान
  • कृषि इनपुट रबी
  • कृषि अनुदान खरीफ
  • प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना
  • कृषि इनपुट अनुदान
  • कृषि इनपुट अनुदान रबी अप्रैल

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना

इस योजना का शुरुआत वर्ष 2015-2016 में भारत सरकार द्वारा किया गया। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत पौधों के सिंचाई पर ध्यान दिया गया है। ताकि सही तरह से पौधों को पानी पहुँच सके। वैसे तो भारत में ही दुनिया के सबसे अधिक वर्षा होने वाले क्षेत्रो में वर्ल्ड रिकॉर्ड है। But, भारत के कुछ भाग में सूखा का असर हर साल देखने को मिलता है।

इसलिए सरकार द्वारा इस योजना का शुरुआत किया गया, ताकि कृषि युक्त पौधों को सही मात्रा में पानी जड़ तक पंहुचा सके और कम से कम पानी का बर्बाद हो। इसके तहत पानी को पौधों के जड़ तक पाइप के माध्यम से पहुंचाया जाता है। जिससे उचित मात्रा में जल पौधों को मिलता है।

कृषि यांत्रिकरण योजना

इस योजना के तहत किसानों को यांत्रिक (मशीन) को बढ़ावा देने के लिए शुरुआत किया गया है। जैसे- आधुनिक हल, औजार एवं मशीनीकृत युक्त सामग्री हो जिसके माध्यम से आसानी से कार्य किया जा सके। इसमें कम दाम पर उपलब्ध करने का लक्ष्य रखा गया, ताकि किसान आसानी से खरीद सके। कृषि यांत्रिकरण योजना के लिए आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।

बीज अनुदान आवेदन

किसी भी खेती के अधिक उपज के लिए बीज का अच्छा होना आवश्यक होता है। यदि बीज ठीक न हो तो खेती का उत्पाद भी कम होती है। इस समस्या के लिए ही सरकार ने सही बीज किसानों तक पहुंचाने के लिए शुरू किया गया। बिहार बीज अनुदान योजना के द्वारा कम दाम में अच्छी किस्म के बीज का वितरण करने का लक्ष्य रखा गया।

जल जीवनी हरियाली

इस योजना के तहत किसानों के खेतों में जल संचयन का कार्य किया गया, ताकि किसानों को पानी का कमी न हो सके। जब जल की कमी हो खेतों में, तो पूरा किया जा सके। जिससे खेतों में हमेशा हरियाली बनी रहे और हरा भरा लगे चारों ओर।

डीजल अनुदान रबी और डीजल अनुदान खरीफ 

ये दो प्रकार के अनुदान मिलता है, जो मौसम के आधार पर विभाजन किया गया है। रबी फसल के लिए और खरीफ फसल के लिए। सरकार द्वारा किसानों के लिए बिहार डीजल अनुदान का शुभारंभ किया गया। खेतों में जल के कमी के समय किसान अपने खेतों में पानी के लिए पानी मशीन का उपयोग करते है। कोई बार मौसम का बुरा असर पड़ जाता है और किसान को मानसून का बारिश नहीं मिलता है और उन्हें पानी मशीन का प्रयोग करना पड़ता है।

But, डीजल के कीमत अधिक होने के कारण किसान को खर्च महंगा पड़ता था, तो सरकार ने इस योजना को चालू किया। जिसके किसानों को डीजल का अनुदान मिल सके और कुछ राहत मिल जाएँ। डीजल अनुदान रबी और डीजल अनुदान खरीफ के लाभ उठाने के लिए आपको आवेदन कर सकते हैं।

जैविक खेती अनुदान

जैविक खेती के बढ़ावा के लिए गवर्नमेंट लगातार प्रयास कर रही है, ताकि किसानों को कम कीमत में अच्छी फसल उत्पाद किया जा सके। रासायनिक खाद से भूमि का प्रदूषण होने का खतरा रहता है और रासायनिक खाद का कीमत भी अधिक होती है। जो सभी किसानों के लिए खरीदना मुश्किल होता है। इस तरह के खेती से जमीन का उर्वरकता बने रहता है और फसल का उत्पाद भी अच्छी तरह से अधिक होता है। So, सरकार द्वारा किसानों के लिए इस योजना का शुरुआत किया गया ताकि किसानों को जैविक खेती के लिए अनुदान मिल सके।

कृषि इनपुट योजना

कोई बार मौसम के खराब परिवर्तन से फसल के उपज को भारी क्षति पहुँचती है जैसे- ओला वृष्टि, तूफानी हवा, बाढ़ आदि से। इस स्थिति में किसानों को भारी नुकसान को झेलना पड़ता है। कोई बार इतना नुकसान हो जाता है की किसान इनका भरपाई नहीं कर पाते हैं। इस लिए सरकार ने किसानों के लिए सहयता हेतु लागू, कृषि इनपुट योजना को शुरू किया गया। बिहार सरकार के द्वारा अनुदान हेतु कृषि इनपुट अनुदान को भी लागू किया गया। इसके आलावा मौसम के आधार पर रबी फसल के लिए कृषि इनपुट रबी और कृषि अनुदान खरीफ का भी शुरुआत किया गया।

प्रधानमंत्री सम्मान निधि स्कीम

इस स्कीम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के सरकार बनने के बाद शुरू किया गया। इसे “PM Kisan” योजना के नाम से भी जाना जाता है। प्रधानमंत्री सम्मान निधि के तहत सरकार द्वारा किसानों को हर साल छह हजार रुपये (Rs. 6000/-) दिया जाता है। जो किसान के बैंक खाते में आता है।

साल में हर चार महीने के बाद किसानों के खाते में दो-दो हजार रुपये भेजा जाता है। इस तरह साल में तीन बार दो-दो हजार (RS. 2000/-) मिलता है। प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना लिस्ट देखने के लिए आप PM-किसान के ऑफिसियल वेबसाइट से चेक कर सकते है।

Application Status Check

यदि आप Application के रिपोर्ट देखना चाहते है। ताकि कितना किसानों के आवेदन क्या हुआ हो जैसे- Reject, Registration, Apply और Approval हो गया है तो ये स्टेप फॉलो करे-

  1. सबसे पहले ऑफिसियल साइट के Subsidy वेब पेज को खोलें।
  2. पोर्टल खुलने के बाद Menu में उपलब्ध आवेदन की स्थिति/आवेदन प्रिंट के लिंक पर क्लिक करे।
  3. फिर, जिसका रिपोर्ट देखना चाहते है उसे सेलेक्ट करना होगा।
DBT Bihar Subsidy Status
आवेदन स्थिति
  1. आप दो तरह के आधार पर रिपोर्ट देख सकते हो- (a) District और (b) Block इनमे से जिन तरह से रिपोर्ट देखना है उसे चुन लें।
  2. Then, “Show Report” बटन पर क्लिक करना है।

Contact Details of Agriculture Department

हेल्पलाइन नंबर: 06122233555,18001801551
ईमेल: dbtcellagri@gmail.com
पता: विकास भवन,नया सचिवालय, पटना-800015

*Note: यदि किसी भी किसान को कोई समस्या या शिकायत हो और हेल्पलाइन नंबर से मदद नहीं मिल रही हो तो विभाग के सबंधित कार्यालय में जाएँ।

लाभार्थी किसानों की सूची देखें-

1. सबसे पहले किसान सूची के इस पेज को खोलें।

2. जिला नाम,प्रखंड,पंचायत नाम और योजना को सेलेक्ट करे।

3. इसके बाद ‘View Records’ पर क्लिक करना है।

4. अब किसानों के लिस्ट दिखाई देगा जिसमें आवेदक का नाम,पिता का नाम,जिला,प्रखंड,पंचायत और गांव का नाम शो होगा।

FAQs: DBT Agriculture Bihar Portal 2024

Q. किसी भी समय ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है?

नहीं, आप DBT Agriculture बिहार पोर्टल में निर्धारित समय में ही आवेदन कर पायेंगें। जिसमें सुबह 9 बजे से 6 बजे तक अप्लाई कार्य किया जा सकता है।

Q. क्या आवेदन करने के लिए DBT Bihar पोर्टल में पंजीयन अनिवार्य है?

हाँ, यदि आप कोई भी योजना को आवेदन करना चाहते है, तो पहले DBT Agriculture Bihar पंजीयन आवश्य कर लें।

Q. क्या DBT Bihar देश के सभी राज्यों के लिए उपयोगी है?

नहीं, DBT पोर्टल सिर्फ बिहार राज्य के किसानों के लिए जारी किया गया है। जिसमें राज्य के किसानों के लिए विभिन्न प्रकार के योजना का विवरण दिया गया है।

Q. पोर्टल में पंजीयन प्रक्रिया के लिए कितना शुल्क (Charge) लगता है?

किसान पंजीकरण में आवेदक को किसी भी प्रकार चार्ज का भुगतान करना नहीं पड़ेगा।

Q. पंजीकरण विवरण को सुधार के कितने समय बाद जाँच करनी चाहिए?

यदि आपने सुधार हेतु अप्लाई कर लिया है तो कम से कम 24 घंटे के इंतिजार करने के बाद आवेदन का स्टेटस जाँच करना चाहिए।

Was this article helpful?
YesNo