UP Agriculture Status, किसान रजिस्ट्रेशन तथा लाभार्थियों की लिस्ट चेक

UP Agriculture (यूपी एग्रीकल्चर) पोर्टल को उत्तरप्रदेश राज्य सरकार द्वारा किसानों के लिए बनाया गया है। इसके माध्यम से किसान पंजीयन और आवेदन करके सरकारी योजना का लाभ ले सकते है। वेबसाइट की मदत से आवेदन प्रक्रिया,योजना से सबंधित नया अपडेट जाँच,लाभार्थियों का लिस्ट देखना तथा UP Agriculture Status आदि कार्य भी किया जा सकता है। किसान भाइयों के लिए यूपी एग्रीकल्चर पोर्टल काफी उपयोगी पोर्टल है। जिससे ऑनलाइन माध्यम से ही सभी प्रक्रिया को यूजर कर पायेंगें।

Uttar Pradesh Agriculture Portal 2024

StateUttar Pradesh
Department byAgriculture Dept. of U.P
Helpline No7235090578
BeneficiaryFarmers
Official site (URL)upagriculture.com

उत्तर प्रदेश एग्रीकल्चर पोर्टल क्या है?

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के कृषि विभाग द्वारा किसानों के हितों के लिए एक पोर्टल जारी किया। जिसके माध्यम कृषि योजनाओं के लिए किसान अपना रजिस्ट्रेशन एवं आवेदन फॉर्म भर सकते है। चूंकिं वेबसाइट पर कृषि सबंधित योजना का ही आवेदन कार्य किया जा सकता है। So, पोर्टल का नाम “UP Agriculture” रखा गया। क्या आप भी यू.पी के निवासी है? और किसान परिवार से सबंध रखते है तो ये पोर्टल आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

DBT एग्रीकल्चर की पूरी जानकारियां जानें।

यूपी एग्रीकल्चर पोर्टल में लाभार्थियों सूची देखें-

  1. सर्वप्रथम ऑफिसियल साइट के इस लिंक पर क्लिक करे- http://upagriculture.com:81/Labharti_Shuchi.aspx
  2. Then,वर्ष,मौसम और विवरण टाइप को सेलेक्ट कर लें।
  3. इसके बाद “सूची देखें” लिंक पर क्लिक करना है।
UP agriculture beneficiary list
Beneficiary list view

UP Agriculture Portal login

  • सबसे पहले Official वेबसाइट के लॉगिन वेब पेज को खोलें।
  • जिला नाम (District),यूजर नाम और पासवर्ड को भरे और ‘Login’ बटन पर क्लिक करे।
UP agriculture login process

अनुदान खाते में भेजने की प्रगति जानें

यदि किसान अपना अनुदान विवरण जाँच करना चाहता है तो पहले वेबसाइट के होम पेज में स्थित ‘अनुदान खाते में भेजने की प्रगति जानें’ लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके पश्चात जनपद,ब्लॉक को चुनें और किसान पंजीकरण संख्या को डालना है। इसके बाद “खोजें” बटन पर क्लिक करे। अब,अनुदान और कृषक का विवरण देख सकते है।

पोर्टल में उपलब्ध प्रमुख योजना-

  • किसान क्रेडिट कार्ड हेतु आवेदन।
  • अनुदान पर सोलर पम्प बुकिंग।
  • एफ०पी०ओ० शक्ति।
  • प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना।
  • वर्मी कम्पोस्ट योजना हेतु चयनित ग्रामों की सूची
  • प्रशिक्षित कृषि उद्यमी स्वाबलंबन योजना
  • यंत्र/खेत तालाब पर अनुदान हेतु टोकन।

अपना पंजीकरण संख्या स्थिति जानें-

इसके लिए पहले यूजर को वेबसाइट के होम पेज में स्थित ‘अपना पंजीकरण संख्या जाने‘ लिंक पर क्लिक करना है। जिससे एक फॉर्म खुलेगा इसके बाद चार विकल्प- मोबाइल नंबर,कृषक पंजीकरण संख्या,अस्थायी पंजीकरण नंबर,कृषक खाता संख्या आदि दिखाई देगा। इन में पंजीकरण संख्या को चयन करे और खाली बॉक्स में नंबर को डालें। अंत में “खोजें” बटन पर क्लिक कर दें।

यूपी स्कॉलरशिप पंजीकरण एवं आवेदन स्थिति।

टोकन का विवरण चेक प्रक्रिया

  1. सबसे पहले UP एग्रीकल्चर पोर्टल के इस इस वेब पेज में जाएँ- https://pmkusum.upagriculture.com/drone/dronetokenprint.aspx
  2. फिर, पंजीकरण संख्या को लिखें और “खोजें” पर क्लिक करे।
  3. जिससे आवेदक का विवरण शो होगा। इसके बाद उपलब्ध विकल्प के अनुसार आवेदन प्रक्रिया को पूरा करे।

उत्तर प्रदेश कृषि विभाग के संपर्क विवरण

यदि विभाग से सम्पर्क करना चाहते है तो नीचे कांटेक्ट विवरण दिया गया है। कोई बार यूजर द्वारा हेल्पलाइन से सम्पर्क करने पर कोई Receive नहीं करता है। ऐसे स्थिति में अन्य डिटेल्स से सम्पर्क करना है या थोड़ी देर बाद कोशिश करे।

  • Helpline Number: 7235090578, 7235090583
  • Email ID: dbt.validation@gmail.com
  • Address: Directorate of Agriculture, Krishi Bhavan, Lucknow (U.P)
Beneficiary ListGet Here
Official websiteOpen Here

FAQs for UP Agriculture (upagriculture.com) Portal 2024

Q. क्या किसी दिन भी हेल्पलाइन नंबर से संपर्क कर सकते है?

नहीं,किसी दिन भी आप कांटेक्ट नहीं कर सकते है,केवल कार्य दिवस (Working Days) पर ही संपर्क किया जा सकता है।

Q. कृषि विभाग द्वारा क्या वस्तु खरीदने पर रसीद दी जाती है?

हाँ,यदि कोई किसान भाई कोई वस्तु कृषि विभाग से खरीदता है तो उसे रसीद भी मिलती है। रसीद न मिलने के स्थिति में हेल्प लाइन पर सम्पर्क करना चाहिए।

Q. योजना से सबंधित कोई शिकायत हो तो क्या करे?

यदि किसी यूजर को योजना से रिलेटेड कोई कंप्लेंट हो तो ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से भी दर्ज कर सकता है।

Q. क्या सभी राज्यों के लिए उपयोग हो सकता?

नहीं,सभी राज्यों के लिए उपयोगी पोर्टल नहीं है, खास कर उत्तर प्रदेश राज्य के लिए हो है।

Q. टोकन जेनरेट के लिए क्या रजिस्ट्रेशन संख्या का होना आवश्यक है?

बिलकुल, ऑनलाइन टोकन जेनरेट करने की प्रक्रिया में कृषक का पंजीकरण संख्या को डालना होगा। जिससे किसान का विवरण शो होगा और आगे Token Generate प्रोसेस को पूरा कर पायेंगें।

Q. किसानों के लिए लिए यूपी एग्रीकल्चर कितना उपयोगी है?

चूँकि, किसानों के लिए विभिन्न कार्य को पोर्टल (UP Agriculture) में उपलब्ध कराया गया है। इसलिए साइट को महत्तपूर्ण में ही गिना जाना उचित है।

Q. DBT पेमेंट क्या होता है और इसका Full Form क्या है?

इसमें लाभार्थी को आधार के माध्यम से सीधा बैंक खाता में राशि को दिया जाता है। DBT का फुल फॉर्म- Direct Benefit Transfer होता है।

Q. बीज निगरानी के लिए डिपार्टमेंट ने क्या प्रणाली शुरू किया है?

ऑनलाइन मॉनिटरिंग सिस्टम को भी अपनाया गया है।

Leave a Comment