अपना खाता जमाबंदी नकल निकालें,नामांतरण स्टेटस। Apna Khata Rajasthan

अपना खाता पोर्टल को राजस्थान राज्य के भूमि से सबंधित कार्य के लिए जारी किया गया है। जिसमें ज़मीन से सबंधित कार्य जैसे- जमाबंदी नकल विवरण,नामांतरण अप्लाई एवं स्थिति,प्रतिलिपि प्राप्त करना आदि कर सकते है। इसके लिए राजस्व विभाग ने “Apna Khata” नाम की वेबसाइट (apnakhata.rajasthan.gov.in) को उपलब्ध किया है। ताकि इच्छुक उपयोगकर्ता आसानी से अपने भू-विवरण को ऑनलाइन माध्यम से देख सके।

जमाबंदी नक़लनामांतरण ऑनलाइन
Rajasthan Apna Khata Portal
DepartmentBoard of Revenue
VersionVer1.0.12.19
Help Desk No.0145-2627891
Official websiteapnakhata.rajasthan.gov.in

Apna Khata (अपना खाता) क्या है?

राजस्थान सरकार ने राज्य के भूमि से सबंधित इन्फॉर्मेशन को आम जनता तक सरलता से पहुंचाने हेतु ऑनलाइन डाटा भी जारी कर दिया है। अब स्टेट के निवासी आसानी से जमींन के डिटेल्स को घर बैठे ही जान सकते है। इसके लिए यूजर को अपना-खाता साइट को उपयोग करना होगा। जिसे राजस्व मंडल द्वारा डाटा अपडेट का कार्य किया जाता है। पोर्टल की मदत से भूमि का नक्शा,नकल जमाबंदी,भूमि रिकॉर्ड,दाखिल ख़ारिज,प्रतिलिपि आदि का जानकारी निकाल सकते है।

राजस्थान भू नक्शा विवरण देखें।

अपना खाता जमाबंदी नकल कैसे निकालें-

  • सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट के इस पेज में जाएँ- https://apnakhata.rajasthan.gov.in/
  • फिर, जिला नाम,तहसील और गांव नाम को सेलेक्ट करे।
  • आवेदक का नाम,शहर,पता और पिन कोड को भी भरे।
  • इसके बाद दो विकल्प दिखाई देगा (1) जमाबंदी की प्रतिलिपि और (2) नामांतरण की प्रतिलिपि
  • इन विकल्प में से पहला नंबर वाला “जमाबंदी की प्रतिलिपि” को चुनें।
  • फिर, तीनऑप्शन होगा- ‘खाता नंबर,खसरा तथा नाम से’ इनमें से किसी एक को चुने। जिससे देखना चाहते है।
  • यदि आप खाता और खसरा नंबर में से किसी एक को चुने है तो नंबर सेलेक्ट कर लें और “चयन करे” पर क्लिक कर दें।
  • अब, “नकल (सूचनार्थ)” लिखा विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Apna khata jamabandi
Apna khata Rajasthan nakal details

*Note: ई-हस्ताक्षरित अधिकृत नकल निकालने के ऊपर दिए गए स्टेप को करने के बाद उपलब्ध “ई-हस्ताक्षरित अधिकृत नकल” बटन पर केवल क्लिक कर प्राप्त कर सकते है।

नामांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन करे

1. सर्वप्रथम ‘अपना खाता’ साइट के ‘नामांतरण का आवेदन‘ लिंक को खोलें।

2. आवेदक और पिता का नाम,मोबाइल नंबर,ईमेल आईडी तथा पता Details को भरे।

3. फिर,जिला,तहसील और गांव का नाम को सेलेक्ट कर लें।

4. नामांतरण आवेदन के प्रकार को चुने। इसके बाद आवेदन के लिए लगने वाले दस्तावेज नाम देख सकते है। जिसे PDF फाइल में सम्मिलित (Merge) करना होगा।

Namantran apply at apna khata Rajasthan
नामांतरण आवेदन

5. इसके बाद “आगे चले”ऑप्शन पर क्लिक करना है।

6. इसके बाद खाता संख्या और खसरा संख्या की जानकारी आपको है की नहीं उसे सेलेक्ट करे। आवेदन करने के लिए इनमें से किसी एक का जानकारी होना अनिवार्य है।

7. जिस भी विकल्प को हाँ सेलेक्ट किये है उसका नंबर को चुन लें और “आगे चले” पर क्लिक करे।

8. फिर,कुछ विवरण दिखाई देगा जिसमें से टिक मार्क (✓) करे और “आगे चले” पर क्लिक कर दें।

9. इसके बाद यदि कोई अन्य विवरण भरने का आये तो उसे भर लें।

10. Then, दस्तावेज अपलोड करना होगा जो PDF फाइल में हो। अपलोड करने के बाद “सुरक्षित करे” पर क्लिक करे।

पे-मैनेजर (PayManager) में उपलब्ध सर्विस एवं लॉगिन करे।

राजस्थान अपना खाता में उपलब्ध सेवाएं

  • जमाबंदी नक़ल
  • नामांतरण आवेदन एवं स्थिति
  • ई-मित्रा लॉगिन
  • राजस्व ऑफिसर लाइसेंस

जमाबंदी नक़ल: भूमि सबंधित दस्तावेज़ (Documents) होता है,जिसमें ज़मीन के सभी डिटेल्स जैसे- रकवा,भूमि का हिस्सेदार,लगान दर,भू-प्रकार तथा भू-सबंधी अन्य विवरण दिया रहता है। इसे “खतियान” भी कहा जाता है।

नामांतरण: किसी भी ज़मीन के मालिक जिसके नाम से भूमि रजिस्टर्ड है। उस जमींन को बेचने,दान या वसीयत से मिलने के पश्चात भू-स्वामित्व का नाम बदलने की प्रक्रिया “नामांतरण” कहलाता है।

ई-मित्रा लॉगिन: राजस्थान के जो भी ई-मित्रा के सदस्य है अर्थात जिनके पास आईडी मौजूद है वे लॉगिन कर पाएंगे। आपको बता दे की ई-मित्रा लॉगिन आईडी से विभिन्न योजना आवेदन,बिल भुगतान,प्रमाण-पत्र,पैंशन एवं अन्य फॉर्म अप्लाई कार्य किया जा सकता है।

राजस्व अधिकारी लॉगिन: पोर्टल में यह लिंक Revenue Department के Officers के लॉगिन करने के लिए है। जो लाइसेंस एवं भू-सबंधित कार्य हेतु उपयोगी है।

अपना खाता में नामांतरण का स्टेटस चेक

यदि आप राजस्थान अपना खाता पोर्टल से नामांतरण का स्थिति ऑनलाइन माध्यम से जानने के इच्छुक है,तो नीचे दिए गए स्टेप को फॉलो करे-

Step-1: फर्स्ट में ऑफिसियल साइट के इस लिंक को खोलें- Open Here

Step-2: जहाँ पर जिला नाम,नामांतरण की संख्या तथा निर्णीत डिटेल्स देख सकते है।

*Note: नामांतरण का स्थिति डाटा कितना तारीख तक का है उसे पोर्टल में दर्शाया जाता है। ताकि यूजर को ज्ञात हो सके की कितने दिनों तक का डाटा उपलब्ध है।

राजकीय भूमि विवरण देखें

  1. Official-पोर्टल के ‘गैर-प्रतिबंधित राजकीय भूमि का विवरण‘ वेब पेज पर जाएं।
  2. जिला तथा तहसील नाम के लिंक पर क्लिक करना है।
  3. फिर, गांव का नाम और उसके नीचे नक्शा देखें लिंक पर क्लिक करे।
  4. इसके बाद वेब पेज भू-नक्शा के वेबसाइट में Redirect हो जाएगा,जहाँ पर भू नक्शा शो होगा।

नामांतरण के लिए आवश्यक संलग्न दस्तावेज़-

नामांतरण प्रकार आवश्यक दस्तावेज़
विरासत का नामांतरण दर्जमृत्यु प्रमाण पत्र,प्रमाणित वारिस सजरा
बैंक से लिए गए लोनपंजीकृत रहन पत्र, गैर पंजीकृत रहन-पत्र
ऋणमुक्त के लिए मूल रहनमुक्त पत्र
हकत्यागरजिस्टर्ड हकत्याग-पत्र
नाबालिग से बालिग तहसीलदार या उच्चाधिकारी का नाबालिग से बालिग दर्ज करने का आदेश, आयु के प्रमाण स्वरूप फोटो पहचान पत्र की प्रति
उपहार पंजीकृत उपहार-पत्र

Contact Details of Apna Khata Department

अपना खाता पोर्टल विभाग (Revenue Department of the Raj. state) के संपर्क विवरण जानने के इच्छुक है तो नीचे दर्शाये गए डिटेल्स को नोट कर लें-

दूरभाष नं०0145 2627891
ईमेलbor-rj@nic.in
पताटोडरमल मार्ग,सिविल लाईन,अजमेर (राजस्व मंडल राजस्थान)

Rajasthan SSO Id लॉगिन प्रक्रिया।

apnakhata.rajasthan.gov.in में ई-मित्र लॉगिन

  1. इसके लिए फर्स्ट में ऑफिसियल वेबसाइट को Open करे।
  2. होम पेज में स्थित ‘ई-मित्र लॉगिन (Login)’ लिखें लिंक पर क्लिक करना है।
  3. Again, अपना ‘Username’ और ‘Password’ को भर लें।
  4. इसके बाद सत्यापन कोड को भरना होगा और “Login” के बटन पर क्लिक करे।

FAQs: Apna Khata Rajasthan Portal 2024

Q. क्या राज्य के किसी भी भूमि मालिक के जमींन का विवरण निकाल सकते है?

बिल्कुल, अपना खाता पोर्टल की मदत से निकाला जा सकता है। बस कुछ Details जैसे-नाम,खाता संख्या,खसरा नम्बर,पता आदि यूजर को मालूम होना चाहिए।

Q. क्या राजस्व इकाई का सूची पोर्टल में उपलब्ध है?

हाँ, तहसील के अनुसार के राजस्व इकाई का सूची को अपना खाता पोर्टल से निकाला जा सकता है।

Q. क्या ऑनलाइन खाता और प्लॉट संख्या निकाला जा सकता है?

हाँ, अब सरकार ने भूमि के विवरण को ऑनलाइन भी उपलब्ध कराया है। जिसकी मदद से आसान स्टेप करने के बाद देख सकते है।

Q. राजस्थान राजस्व मंडल की स्थापना कब हुई?

12 अगस्त, 1949 में राजस्व मंडल राजस्थान की स्थापना की गयी थी।

Q. क्या पोर्टल से प्राप्त Details को कोर्ट में सबूत के तौर पर मान्यता है?

नहीं, किसी कोर्ट में सबूत के तौर पर Apna Khata के विवरण को नहीं माना जाएगा। पोर्टल उपलब्ध Details सिर्फ सामान्य Information के उद्देश्य से प्रदान किया गया है।

Q. यदि कोई समस्या या सवाल हो तो क्या विभाग में संपर्क कर सकते है?

बिल्कुल,अगर अपना खाता पोर्टल से सबंधित सवाल हो तो विभाग के अधिकारियों को कांटेक्ट कर सकते हो।

Was this article helpful?
YesNo